Rohit Sharma Success Story-2022

Pain Relief Spray Used by Cricketer's

Rohit Sharma success story :

Rohit Sharma Success Story-2022: दोस्तों ! आज हम सक्सेस स्टोरीज के नये पोस्ट में एक ऐसे खिलाड़ी की बात करने वाले है ,जो गरीबी के जीवन जीने के लिए मजबूर था और आज वो भारतीय क्रिकेट टीम का कप्तान है। हम बात कर रहे हैं क्रिकेट की दुनिया में कदम रखने वाले ऐसे  क्रिकेटर की, जो न सिर्फ एक बेहतरीन  बल्लेबाज बने बल्कि बल्लेबाजी के दम पर बहुत ही कम समय में छा गए,और इसके साथ -साथ वो भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान भी बन गए  और दुनिया इनको हिटमैन के नाम से जानती है ।

  दोस्तों हम जिस खिलाडी की बात कर रहे है वो कोई और नहीं बल्कि भारतीय टीम के हिटमैन और मौजूदा कप्तान रोहित शर्मा है । जिन्होंने मैदान पर शानदार शॉट चयन, शानदार टाइमिंग, शानदार फुटवर्क और तेज रन बनाने में महारत हासिल की है ।

Rohit Sharma Early Life :

Rohit Sharma Success Story-2022
Rohit Sharma With his Parents

रोहित शर्मा का जन्म 30 अप्रैल 1987 को नागपुर के बंसोड़  नामक स्थान पर हुआ था । रोहित शर्मा  की माँ का नाम पूर्णिमा और पिता जी का नाम गुरुनाथ शर्मा है। रोहित शर्मा के पिता जी  एक ट्रांसपोर्ट फर्म के देखभाल का काम करते थे,घर की आर्थिक समस्याओं के कारण रोहित शर्मा का ज्यादातर बचपन उनके दादा -दादी के साथ ही गुजरा । रोहित शर्मा  के दादा -दादी जी  बोरीवली में रहते थे और रोहित अपने मम्मी-पापा से मिलने के लिए हफ्ते में कभी-कभी डोम्बिवली आ जाया करते थे।

रोहित शर्मा को क्रिकेट के प्रति प्यार  बचपन से ही था और रोहित के इस लगन को देखते हुए उनके अंकल ने रोहित शर्मा की आर्थिक मदत की और 1999 में रोहित का दाखिला एक क्रिकेट कैंप में करवा दिया । जहाँ पर रोहित के कोच थे दिनेश लाड जिन्होंने रोहित शर्मा का क्रिकेट के प्रति खुब लगाव देखा और तभी उन्होंने रोहित को उनका स्कूल चेंज करने की सलाह दी की रोहित शर्मा का एडमिशन स्वामी विवेकानंद इंटरनेशनल स्कूल में कराया जाये,क्योंकि स्वामी विवेकानन्द इंटरनेशनल स्कूल में क्रिकेट खेलने और सिखने की अच्छी सुविधा थी। 

Rohit Sharma की मां नहीं चाहती थी,बेटा क्रिकेटर बने :

रोहित शर्मा की मां पूर्णिमा शर्मा को आज अपने बेटे की सफलता पर बहुत ही नाज है। लेकिन एक समय ऐसा भी था,जब रोहित शर्मा की मां नहीं चाहती थी कि उनका बेटा क्रिकेट में जाएं। रोहित शर्मा के जुनून के आगे मां को झुकना पड़ा और अब वे खुद भी क्रिकेट एन्जॉय करती हैं। रोहित शर्मा बचपन से ही क्रिकेट खेलना पसंद करते थे। रोहित शर्मा पढ़ाई से ज्यादा ध्यान क्रिकेट खेलने में देते थे। उन्होंने 16 साल की उम्र में क्रिकेट खेलना शुरू किया था और 20 साल की उम्र में वे नेशनल भारतीय क्रिकेट में शामिल किए गए ।

Rohit Sharma in Domestic Cricket :

Rohit Sharma


रोहित शर्मा ने 2005 में घरेलु क्रिकेट देवधर ट्रॉफी से  खेलना स्टार्ट किया , उन्होंने ने अपना पहला मैच सेंट्रल जोन के खिलाफ ग्वालियर में खेला था लेकिन रोहित शर्मा ने अपनी पहचान लोगो में तब बनाई  जब उन्होंने नार्थ जोन के खिलाफ मात्र 123 बाल में शानदार विस्फोटक 142 रनों की पारी खेली। यह शतक रोहित शर्मा  के लिए बहुत फायदेमंद साबित हुआ | जिसके वजह से रोहित शर्मा को अबू दाबी में हो रहे भारत ए के तरफ से खेलने का पहली बार मौका मिला था और रोहित ने शर्मा ने खूब जबरदस्त प्रदर्शन किया था।

रोहित शर्मा ने 2005 में घरेलु क्रिकेट देवधर ट्रॉफी से  खेलना स्टार्ट किया , उन्होंने ने अपना पहला मैच सेंट्रल जोन के खिलाफ ग्वालियर में खेला था लेकिन रोहित शर्मा ने अपनी पहचान लोगो में तब बनाई  जब उन्होंने नार्थ जोन के खिलाफ मात्र 123 बाल में शानदार विस्फोटक 142 रनों की पारी खेली। यह शतक रोहित शर्मा  के लिए बहुत फायदेमंद साबित हुआ | जिसके वजह से रोहित शर्मा को अबू दाबी में हो रहे भारत ए के तरफ से खेलने का पहली बार मौका मिला था और रोहित ने शर्मा ने खूब जबरदस्त प्रदर्शन किया  उस में खूब शानदार प्रदशर्न भी किया था।

उसके बाद रोहित शर्मा ने फर्स्ट क्लास मैच में 2006 में भारत के तरफ से न्यूज़ीलैण्ड के खिलाफ डेब्यू किया। उसी साल रोहित शर्मा  ने रणजी ट्रॉफी करियर की सुरवात मुंबई क्रिकेट टीम के लिए भी किया था उस समय हिटमैन ने गुजरात टीम के खिलाफ 276 गेंदों पर 205 भी बनाएं थे। रोहित शर्मा ने फाइनल मुकाबले में बंगाल के खिलाफ अर्धशतक मार कर मुंबई को जिताया भी था।

Rohit Sharma in International Cricket :

Pain Relief Spray Used by Cricketer's
HItman

रोहित शर्मा ने अपना पहला इंटरनेशनल क्रिकेट 2007 में आयरलैंड के खिलाफ खेला था इसके बाद रोहित ने अपने One-day क्रिकेट  करियर की सुरुवात बेलफास्ट में आयरलैंड टीम के खिलाफ की। रोहित शर्मा के जीवन में टर्निंग पॉइंट तब आया जब उन्होंने 2007 के विश्व कप में  साउथ अफ्रीका के खिलाफ 40 बॉल पे 50 रन की बेहतरीन पारी खेलकर भारत को जिताया ,उनकी बैटिंग देखकर क्रिकेट के पंडितों ने बोलना शुरू कर दिया की ये खिलाड़ी बहुत आगे जायेगा और उसी मैच में रोहित शर्मा को man of the match  का अवार्ड भी मिला था। बाद में रोहित शर्मा  ने उसी  t-20 वर्ल्ड कप में पकिस्तान के खिलाफ 16 गेंदों पर 30 रन की बेहतरीन पारी खेली थी।

इसके बाद रोहित शर्मा ने कई सारे ओने डे मैच खेले और अच्छा प्रदर्शन भी किया लेकिन फिर भी इनको 2011 में क्रिकेट विश्व कप में भारतीय टीम में जगह नहीं दी गयी थी। जिससे रोहित शर्मा को बहुत बड़ा झटका लगा और उन्होंने निरणय लिया की वो ये सब भूलकर खूब मेहनत करेंगे और उन्होंने ऐसा किया भी ।

फिर आया 2013 जब रोहित शर्मा की जिंदगी की कहानी बदल गयी । उस टाइम के मोजुदा कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने ऐसा निरणय लिया जो की पुरे दुनिया को चौका दिया, उन्होंने रोहित शर्मा को मिडिल आर्डर से ओपन करने का ऑफर दिया और रोहित शर्मा ने इस ऑफर को दोनों हाथो से लिया और तब से उन्होंने अपने जिंदगी में पीछे मुड़कर नहीं देखा ,दिन पे दिन अपने आप को और बेहतर बनाते गए । महेंद्र सिंह धोनी के इस ऐतिहासीक फैसले और Rohit Sharma के मेहनत से पुरे दुनिया को मिला हिटमैन ।

जी हा,दोस्तों ये यही समय था जब रोहित शर्मा हिटमैन के नाम से प्रसिद्ध हो गए  । इसके बाद घरेलु सीरीज में हिटमैन ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दोहरा शतक मारकर अपना लोहा दुनिया को मनाया ।

इतना ही नहीं रोहित शर्मा ओने- डे में सबसे बड़ी पारी खेलने वाले बल्लेबाज़ भी है ,जो उन्होंने 264 रन श्रीलंका के खिलाफ लगया था । रोहित शर्मा दुनिया के एक मात्र ऐसे बल्लेबाज़ है जिनके नाम पे एक- दो नहीं बल्कि One-day  में 3 दोहरे शतक लगाने के साथ साथ अंतराष्ट्रीय टी-20 में भी 4 शतक लगाने वाले एक मात्र बल्लेबाज है । इतना ही नहीं रोहित शर्मा इंटरनेशनल मैचों में भारत को तरफ से सबसे ज्यादा छक्के लगाने वाले बल्लेबाज़ है ।

छोटे फॉर्मेट में इतना सफल होने के बाद भी रोहित शर्मा को टेस्ट  मैच में इतने मौके नहीं मिले और जितने मौके मिले उसमे रोहित शर्मा के परफॉरमेंस उतना अच्छा नहीं रहा । हालाँकि रोहित शर्मा ने अपना टेस्ट देबे 2013 में वेस्ट इंडीज के खिलाफ किया था जहाँ उन्होंने अपने पहले ही मैच में 177रन की धमाकेदार पारी खेली ,फिर अगले पारी में भी एक शतक लगाया ।

एक समय ऐसा भी आया जब रोहित शर्मा को टेस्ट टीम से ड्राप भी कर दिया गया,जिससे उनको बहुत दुःख हुआ और उन्होंने बहुत मेहनत किया ।एक बार फिर उनको टेस्ट टीम में ओपन कराया गया और उन्होंने मन ऑफ़ थे सीरीज का अवार्ड जीता तब से वो कभी भी पीछे मुड़कर नहीं देखे । आज के समय में हम कह सकते है की वो दुनिया के सबसे बेहतरीन ओपनर बल्लेबाज़ है

Rohit Sharma in Indian Premier League :

Rohit Sharma Ipl

अब तक के आईपीएल के सफर में रोहित शर्मा एक सफल प्लेयर और एक सफल कप्तान है अब तक रोहित ने कप्तानी करते हुए मुंबई इंडियंस टीम को 5 बार आईपीएल ट्रॉफी जिताया है। रोहित शर्मा ने पहली बार 2008 में आईपीएल डेक्कन चार्जेस के लिया खेला था और रोहित 2008 में आईपीएल में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ियों में से एक थे रोहित शर्मा के खेल को देखते हुए 2013 में उन्हें मुंबई इंडियंस टीम का कप्तान बना दिया गया,और अब तक मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित ही है रोहित ने अपने आईपीएल के करियर में 5 बार मुंबईइंडियंस को आईपीएल ट्रॉफी जिताया है रोहित अब तक एक सफल बल्लेबाज और कप्तान है ।

Rohit Sharma to Captain Of India Cricket Team :

Rohit Sharma During Toss

रोहित शर्मा के शानदार प्रदर्शन के बदौलत उन्हें इंडिया टीम का उप-कप्तान बनाया गया जब विराट कोहली कप्तान बने । रोहित शर्मा को जब भी कप्तानी करने का मौका मिला तो उन्होंने बेहतरीन प्रदर्शन किया और उसके साथ-साथ आईपीएल में शानदार कप्तानी करते रहे,जिसके बदोलत उन्हें टीम इंडिया का कप्तान बना दिया गया । रोहित शर्मा आज तीनों फॉर्मेट के कप्तान है और उन्होंने अपने कप्तानी से सबका दिल जीता है ।

Rohit Sharma Personal Life :

Rohit Sharma With his wife and Daughter

रोहित शर्मा को पहले उनके गर्लफ्रेंड सोफ़िया हयात के साथ कई बार देखा गया था लेकिन रोहित और सोफ़िया के रिश्ता ज्यादा दिन तक नहीं चला । फिर रोहित उनके स्पोर्ट्स मैनेजर रितिका सजदेह को डेट करने लगे और 2015 अप्रैल में रोहित ने रितिका से सगाई की और फिर दिसंबर 2015 में उन्होंने रितिका से शादी कर ली। रोहित की एक बेटी भी है जिसका नाम समाइरा शर्मा है।

दोस्तों,मुझे उम्मीद हैं कि आप को (Rohit Sharma Success Story In Hindi) अच्छा लगा होगा और इस पोस्ट से आप को रोहित के जीवन के बारे में बहुत कुछ पता चला होगा।अगर आप को इस पोस्ट में किसी प्रकार की कोई गलती य समस्या नज़र आयी है तो कमेंट करके हमे जरूर बताये हम उसे सुधार करेंगे।

धन्यवाद !

You may also like this :

2 thoughts on “Rohit Sharma Success Story-2022”

  1. Bobby Singh

    आप बहुत अच्छा काम कर रहे है ।
    Keep it up ❤️

Leave a Comment

Your email address will not be published.